डेविड जूलियस और आर्डम पाटापोशियन को मिला चिकित्सा का नोबेल


 Satyakam News | 04/10/2021 7:25 PM


स्टॉकहोम। वर्ष 2021 के नोबेल पुरस्कारों की घोषणा शुरू हो चुकी है। अमेरिका के डेविड जूलियस और आर्डम पाटापोशियन को चिकित्सा के क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार दिया गया है। उन्हें यह पुरस्कार तापमान और स्पर्श को महसूस करने वाले रिसेप्टर्स की खोज के लिए मिला है।

नोबेल कमेटी ने स्वीडन की राजधानी स्टॉकहोम में इन पुरस्कारों की घोषणा की। कमेटी ने बताया कि दोनों साइंटिस्ट की इस खोज से नए तरह के पेन किलर्स को बनाने में मदद मिलेगी। खोज का उपयोग पुराने दर्द और कई तरह की बीमारियों के इलाज के लिए किया जा रहा है। इस खोज से हमें पता चला है कि हमारा नर्वस सिस्टम गर्मी, ठंड और यांत्रिक उत्तेजनाओं को कैसे महसूस करता है।

आर्डम पाटापोशियन स्क्रिप्स रिसर्च, कैलिफोर्निया में प्रोफेसर हैं। इससे पहले वह कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी, सैन फ्रांसिस्को और कैलिफोर्निया इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में रिसर्च कर चुके हैं। 1967 में जन्मे पाटापोशियन आर्मेनियन माता-पिता की संतान हैं। इनका जन्म लेबनान में हुआ था।

डेविड जूलियस का जन्‍म साल 1955 में अमेरिका के न्‍यूयॉर्क शहर में हुआ, उन्‍होंने 1984 में कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी, बर्कले से पीएचडी की डिग्री हासिल की है। इस समय वे यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया, सेन फ्रांसिस्‍को में प्रोफेसर हैं। वह न्यूयॉर्क के कोलंबिया यूनिवर्सिटी में काम कर चुके हैं।

पिछले साल चिकित्सा का नोबेल पुरस्‍कार संयुक्त रूप से तीन वैज्ञानिकों हार्वे जे आल्टर, माइकल ह्यूटन और चार्ल्स एम राइस को मिला था। इन्होंने लिवर को नुकसान पहुंचाने वाले हेपेटाइटिस सी वायरस की खोज की थी। इस खोज से इस घातक बीमारी का इलाज ढूंढने में मदद मिली थी।

इन पुरस्कारों की शुरुआत सबसे पहले मेडिसिन के नोबेल से की जाती है। इसके बाद फिजिक्स और केमिस्ट्री का नोबेल दिए जाने की परंपरा है। बाद में साहित्य, शांति और फिर अर्थशास्त्र के नोबेल पुरस्कार दिए जाते हैं। इस महीने 4 से 6 अक्टूबर तक नोबेल पुरस्कारों की घोषणा की जाएगी।

5 अक्टूबर- फिजिक्स का नोबेल
6 अक्टूबर- केमिस्ट्री का नोबेल
7 अक्टूबर- साहित्य का नोबेल
8 अक्टूबर- नोबेल शांति पुरस्कार
11 अक्टूबर- अर्थशास्त्र का नोबेल
100 साल से भी पुराना है नोबेल

1901 से दिए जा रहे इस पुरस्कार को रॉयल स्वीडिश एकेडमी ऑफ साइंसेज देती है। इसमें करीब 10 मिलियन स्वीडिश क्राउन यानी 8.5 करोड़ रुपए की पुरस्कार राशि दी जाती है। डायनामाइट के आविष्कारक और बिजनेसमैन अल्फ्रेड नोबेल ने इस पुरस्कार की शुरुआत थी।

अल्फ्रेड ने विज्ञान, साहित्य और शांति में उपलब्धियों के लिए इस प्रतिष्ठित पुरस्कार को बनाया। पुरस्कार की राशि अल्फ्रेड नोबेल की छोड़ी गई वसीयत से आती है। 1969 में पहली बार अर्थशास्त्र का नोबेल दिया गया था।

Follow Us