भिंड में बारिश का कहर, जिला जेल में बैरक की दीवार ढही, 2 कैदी गंभीर, 22 घायल


 Satyakam News | 31/07/2021 10:05 AM


भिंड। मध्यप्रदेश के भिंड जिले में शनिवार सुबह-सुबह तड़के बड़ा हादसा हो गया। मूसलाधार बारिश की वजह से जिला जेल की जर्जर दीवार भरभराकर ढह गई। इसके बैरक नंबर 6 में बंद 22 कैदी घायल हो गए हैं। घटना की सूचना मिलते ही एसपी एवं आरआइ माैके पर पहुंच गए और घायलाें काे इलाज के लिए अस्पताल पहुंचाया गया है। उनमें से दो की हालत गंभीर बताई जा रही है। सभी घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। दोनों गंभीर कैदियों को बेहतर इलाज के लिए ग्वालियर रेफर किया गया है। जेल में बंद अन्य बंदियाें काे दूसरी बैरकाें में शिफ्ट कर दिया गया है।

जेलर ने बताया कि हादसा सुबह 5:10 पर हुआ। एक सिपाही ने देखा कि बैरक नंबर 7 का प्लास्टर गिर रहा है। उसने तुरंत वरिष्ठ अधिकारियों को इसकी जानकारी दी और बाकी सिपाहियों को इकट्ठा किया। लेकिन थोड़ी ही देर बाद बैरक नंबर 6 की दीवार और छत भरभराकर गिर गई, जिसमें 22 कैदी घायल हो गए। यह दीवार 150 साल पुरानी थी। हादसे के वक्त बैरक नंबर 7 में 64 कैदी थे। 

भिंड के एसपी और कलेक्टर ने बताया कि इस वक्त भिंड जेल में कुल 255 कैदी बंद हैं और सभी पूर्णत: सुरक्षित हैं. सिर्फ 22 कैदी घायल हैं, जिनका उपचार किया जा रहा है. फिलहाल पूरे मामले की जांच भी शुरू कर दी गई है

जेलर ओपी पांडेय ने बताया कि कुछ दिनों से जेल में पानी टपक रहा था। चार दिन पहले PWD विभाग को इसकी मरम्मत के लिए पत्र भी लिखा था। लेकिन, इस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि जेल में इस तरह की पहले भी मरम्मत हो चुकी है। जेलर ने किसी कैजुअलटी से साफ इनकार कर दिया। जानकारी के मुताबिक, इस जेल की जगह नई जेल का प्रस्ताव किया गया था। साल 2008 से नई जेल बन रही है. इसे 2018 तक तैयार हो जाना था, लेकिन अभी तक नहीं हुई। 

जिला जेल का नया भवन 2018 में बनकर तैयार हाेना था, लेकिन यह भवन अब तक नहीं बना है। ऐसे में बंदियाें काे अब भी जर्जर हाे चुके जेल भवन में ही रखा जा रहा है। हादसे के बाद बाकी बंदियाें काे नई बैरक में शिफ्ट कर दिया गया है।

घटना की सूचना मिलते ही जेल के बाहर बंदियाें के परिजनाें के पहुंचने का सिलसिला शुरू हाे गया। लाेग जेल काे घेरकर खड़े हाे गए हैं, उनका कहना है कि उनकाे उनके बंदियाें से मिलवाया जाए। पुलिस अधीक्षक, आरआइ माैके पर भीड़ काे संभालने का प्रयास कर रहे हैं।

Follow Us